Finance

nifty 50 kya hota hai | निफ्टी में आने वाले शेयरों की सूची

हैलो दोस्तो में अपने इस ब्लॉग पर Learn stock market नाम से एक blog post series सुरु करने जा रहा हु जिसका उद्देश्य भारतीयों को शेयर बाजार के बारे में जागरूक करना और स्टॉक मार्केट से जोड़ना है। आज सबसे पहले हम जानेंगे की nifty 50 kya hota hai.

आप सभी लोगो ने निफ्टी का नाम तो कई बार सुना होगा, कई लोगो ने इसको समझने की कोशिश भी की होगी। परन्तु हिंदी में बहुत ही कम प्लेटफार्म है जो स्टॉक मार्केट से संबंधित विषय पर सही जानकारी उपलब्ध करवाते है। जिस वजह से हो सकता है की बहुत से लोगो को nifty or nift 50 के बारे में सही से समझ नही आया होगा।

stock market is not as difficult as you think

स्टॉक मार्केट उतना कठिन नहीं है जितना की आप समझते है। इसके बारे में जानकारी से ज्यादा भ्रांतियां फैलाते है।

जैसा कि अपना टॉपिक है nifty 50 kya hota hai इसको समझने से पहले हमे थोड़ा सा स्टॉक मार्केट इंडेक्स को समझना पड़ेगा।

स्टॉक मार्केट इंडेक्स

किसी भी देश के शेयर बाजार ढेरो कंपनिया लिस्टेड होती है जिसमे लोग इन्वेस्टिंग और ट्रेडिंग करते है अगर हमें पता करना हो की शेयर बाजार गिरा है अथवा बढ़ा है तब सभी कंपनियों के शेयरों की कीमत में हुए उतार चढ़ाव को पता करना पड़ेगा। तब जाकर यह पता चलेगा कि आज स्टॉक मार्केट में क्या हुआ।

स्टॉक मार्केट मे ही 5000 से ज्यादा कंपनियां लिस्टेड है तो इतनी कम्पनी को एक साथ ट्रैक करना बहुत मुश्किल होगा।इसके साथ ही शेयर के भाव हर सेकंड बदलते रहते है तो हो सकता है की जब तक हम 5000 कंपनियां देखे तब तक शेयरों का भाव बदल जाए।

इस प्रोब्लम से बचने के लिए स्टॉक मार्केट में सूचकांक बनाए जाते है जिसमे लगभग हर बड़े सेक्टर की दिग्गज कंपनियों को अलग अलग वेटेज के हिसाब से रखा जाता है। और एक सूचकांक बनाया जाता है। nifty 50 और सेंसेक्स दो अलग सूचकांक है हम किसी को भी देख कर स्टॉक मार्केट में चल रहे तेजी या मंदी को बता सकते है।

nifty 50 kya hota hai

Nifty 50 एक NSE का फ्लैगशिप stock market index है जिसमे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड लगभग हर सेक्टर की बड़ी और दिग्गज कंपनियों मे से 50 कंपनियों को रखा गया है। निफ्टी 50 ब्लू चिप कंपनियों बड़ी एवं सबसे ज्यादा वॉल्यूम वाली कंपनी का BEHAVIOR ट्रैक करता है NSE पर लिस्टेड 1600 स्टॉक्स मे से इसमें 50 कंपनियों को सम्लित किया जाता है जो की लगभग 65% मार्केट कैपिटल कवर करती हो इससे मार्केट का सही उप और डाउन REFLECTION पता चल जाता है

इन सभी 50 कंपनियों का वेटेज अलग है nifty शब्द दो शब्दों का योग है national + fifty. स्टॉक मार्केट में निफ्टी 50 को और भी दुसरे नामो से जाना जाता है जिनमे cnx nifty या फिर केवल nifty है पर प्रोफेशनल Ttrader केवल nifty ही बोलते है.

वर्तमान परिवेश में देखे तो nifty 50 सबसे ज्यादा popular indices है भारत में मुख्यता दो इंडेक्स है सेंसेक्स और निफ्टी. सेंसेक्स को BSE के द्वारा बनाया गया है जिसमे BSE में लिस्टेड टॉप 15 कंपनिया है वही NIFTY 50 को NSE के द्वारा 1992 में बनाया गया जिसने 1996 से ट्रेड करना सुरु किया इस इंडेक्स में 50 कंपनिया होती है

nifty 50 मालिकाना हक़ nse indices लिमिटेड जिसे IISL ( इंडिया इंडेक्स सर्विस एंड प्रोडक्ट लिमिटेड) के नाम से जानते है के पास है यही इसको मैनेज करती है

NOTE-: nifty 50 केवल एक नाम है जरुरी नहीं है की इसमें हमेशा 50 ही कंपनिया हो जैसे वर्तमान में इसमें 51 कंपनी है.

nifty के कई और प्रोडक्ट है जो स्टॉक मार्केट में ट्रेड होते है जिसमे nifty इंडेक्स फण्ड , इंडेक्स फ्यूचर एंड आप्शन , स्टॉक्स फ्यूचर एंड ऑप्शन शामिल है

nifty एवं सेंसेक्स के अलावा भी कई INDICESहै जो की मार्केट कैपिटल और इंडस्ट्री सेक्टर के हिसाब से बने है

stocks in nifty 50 (nifty 50 constituents)

adani portshri cementwiprojsw steelcoal india
m&mpower gridtitanultratech cementbajaj finserv
bharti airteldivis labbajaj financeupldr. reddys labs
maruti suzukireliancehdfchdfc bankhdfc life
itchero moto corpkotak mahindratech mahindraindusind bank
hclbpcltata consumertata steelasian paints
bajaj autosbi lifeicici banksbi bankcipla
tcsinfosysTata motorsun pharmahul
britannialarsennestleEicher motorhindalco
ongcntpcgrasimaxis bankApollo hospital
nifty 50 स्टॉक्स लिस्ट

INDICES

SMALL CAP, MID CAP, LARGE CAP, एवं इंडस्ट्री SECTOR के हिसाब से भी कुछ indices बनाये गए है जिससे की हर टाइप की इंडस्ट्री को क्विक वाच करने में आसानी होती है नीचे उनकी सूचि दी जा रही है

INDICES WHAT IS THIS
NIFTY 100 इसमें nifty की 100 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY 200इसमें nifty की 200 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY 500इसमें nifty की 500 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY SMALL CAP 50 small cap ( <5000 caror market value) की top 50 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY SMALL CAP 100small cap ( <5000 caror market value) की top 100 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY MID CAP 50mid cap ( <20K caror market value) की top 50 कंपनियों को रखा गया है
NIFTY LARGE CAPlarge cap ( >20K caror market value) की कंपनियों को रखा गया है
NIFTY BANKइसमें बैंक को रखा गया है
SOME INDICES OF STOCK MARKET

यह सभी indices मार्केट को एनालिसिस करने के लिए बनाये गए है इनके अन्य कोई प्रोडक्ट (nifty 50 के जैसे) नहीं है जिसमे की ट्रेड की जा सके इसी तरह एक nifty बैंक को छोड़कर. इसी तरह कुछ और indices बनाये गए है जो की सेक्टर एवं इंडस्ट्री के प्रकार के आधार पर बने है उनकी सूची नीचे दी जा रही है

INDICES WHY IS THIS
NIFTY AUTOस्टॉक मार्केट में लिस्टेड ऑटो कंपनिया
NIFTY ITस्टॉक मार्केट में लिस्टेड आईटी कंपनिया
NIFTY PSUस्टॉक मार्केट में लिस्टेड PSU कंपनिया
NIFTY FIN SERVICEस्टॉक मार्केट में लिस्टेड फाइनेंसियल सर्विस बाली कंपनिया
NIFTY PHARMAस्टॉक मार्केट में लिस्टेड फार्मा कंपनिया
NIFTY FMCGस्टॉक मार्केट में लिस्टेड FMCG कंपनिया
NIFTY REALYस्टॉक मार्केट में लिस्टेड रियलिटी कंपनिया
NIFTY METALस्टॉक मार्केट में लिस्टेड मेटल कंपनियों के स्टॉक
NIFTY MEDIAस्टॉक मार्केट में लिस्टेड मीडिया से सम्बंधित स्टॉक्स
NIFTY ENERGYस्टॉक मार्केट में लिस्टेड एनर्जी कंपनिया
NIFTY PVT BANKस्टॉक मार्केट में लिस्टेड प्राइवेट बैंक पनिया
NIFTY INFRAस्टॉक मार्केट में लिस्टेड INFRA SECTOR की कंपनिया
NIFTY COMMODITIESइसमें कमोडिटी से सम्बंधित कंपनिया है
NIFTY HELTHCAREस्टॉक मार्केट में लिस्टेड हेल्थ केयर कंपनिया
INFTY OILGASस्टॉक मार्केट में लिस्टेड आयल गैस कंपनिया

कोई भी शेयर nifty 50 में कब आता है

किसी भी स्टॉक्स को निफ्टी 50 में आने के लिए सेबी द्वारा कुछ जरुरी शर्ते बनाई गई है उनको पूरा करना जरुरी है तब ही वह निफ्टी का पार्ट हो सकता है परन्तु यह जरुरी नहीं है की चेकलिस्ट में दिए सभी पॉइंट क्लियर करने पर सभी कंपनियों को निफ्टी 50 का हिस्सा बना ही दिया जायेगा क्योंकि अगर मान लो 100 कंपनिया शर्ते पूरा कर देती है तब सभी को तो निफ्टी का पार्ट बना नहीं सकते सकते.

  1. company india में रजिस्टर्ड हो एवं nse पर ट्रेड होती हो
  2. निफ्टी 100 इंडेक्स का हिस्सा हो एवं nse future option सेगमेंट में ट्रेड होती हो
  3. company का पिछले छे माह का एवरेज एम्पक्ट कोस्ट 0.5 या इससे कम हो
  4. company पिछले 6 माह में लगातार ट्रेड हुई हो अगर company का हाल ही में आईपीओ आया है तब 6 महीने की जगह 3 माह का नियम है
  5. साल में दो बार nifty इंडेक्स की कंपनियों को 6 महीने के आकड़ो के आधार पर बदलने के लिए कंसीडर किया जाता है

index management

index का management professional टीम के द्वारा किया जाता है NSE indices लिमिटेड एक इंडेक्स एडवाइजरी कमिटी गठित करती है जो कि इन कम्पनी को लेकर छोटी छोटी जानकारी कलेक्ट करती है। इन्डेक्स से जुडे सभी अनाउन्समेंट एनएसई की वेबसाईट पर पब्लिस किये जाते है। जिसकी वेबसाईट WWW.NIFTYINDICES.COM या फिर WWW.NSEINDIA.COM है।

nifty 50 की गणना

निफ़्टी फिफ्टी की गणना free float market capitalization के आधार पर की जाती है जहां इंडेक्स का लेवल इंडेक्स के सापेक्ष निफ्टी निफ्टी फिफ्टी में सभी शेयरों के कुल बाजार मूल्य को दर्शाता है जिसका आधार 3 नवंबर 1995 है।

Market Capitalization = Shares outstanding * Price
Free Float Market Capitalization = Shares outstanding * Price * IWF
Index Value = Current Market Value / Base Market Capital * Base Index Value (1000)

निफ्टी 50 इंडेक्स पोर्टफोलियो में निवेश करने पर मिलने वाले रिटर्न को दर्शाता है। चूंकि निफ्टी 50 की गणना वास्तविक समय में की जाती है, यह केवल स्टॉक मूल्य आंदोलनों को ध्यान में रखता है। हालांकि, मूल्य सूचकांक सूचकांक घटक के लाभांश भुगतान से रिटर्न पर विचार नहीं करते हैं स्टॉक मूल्य में उतार-चढ़ाव के कारण होने वाले पूंजीगत लाभ और हानि को ही मूल्य सूचकांक द्वारा मापा जाता है। कुल रिटर्न इंडेक्स पर रिटर्न को दर्शाता है

निफ़्टी vs सेंसेक्स

निफ्टी और सेंसेक्स दोनों ही इंडियन स्टॉक मार्केट से जुड़े हुए शब्द हैं एवं दोनों ही इंडेक्स हैं सीमा मार्केट मूवमेंट को दर्शाते हैं परंतु दोनों के बीच काफी अंतर है निफ़्टी जहां 50 स्टॉक का संग्रह है वहीं सेंसेक्स में केवल 30 स्टाफ होते हैं

निफ़्टी एनएससी का प्रोडक्ट है जबकि सेंसेक्स बीएसई बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रोडक्ट है दोनों ही इंडेक्स में हाई वॉल्यूम स्टॉक्स एवं हाई कैपिटल वाली कंपनियों को रखा जाता है दोनों के बीच एक मेजर डिफरेंस यह है कि निफ्टी के अन्य प्रोडक्ट है जिनमें लोग फ्रिक्वेंटली ट्रेड करते हैं जैसे कि निफ़्टी 50 ऑप्शन, निफ़्टी फिफ्टी फ्यूचर, निफ़्टी 50 डेरिवेटिव आदि परंतु सेंसेक्स में ट्रेड नहीं कर सकते इससे केवल मार्केट मूवमेंट को जानते हैं।

निफ़्टी फिफ्टी चार्ट कैसे देखें

मार्केट में लिस्टेड हर कंपनी का एवं इंडेक्स का अपना खुद का चार्ट होता है जिसके द्वारा उसकी मूवमेंट को पता करते हैं इसी प्रकार निफ्टी 50 में होने वाली बढ़त एवं गिरावट को चार्ट के द्वारा समझा जा सकता है यह चार्ट बिल्कुल फ्री है इसे एन एस ई की वेबसाइट पर देख सकते हैं या फिर आप अपने डिमैट अकाउंट में देख सकते हैं इसके अलावा भी कई वेबसाइट हैं जो एडवांस फॉर्म में चार्ट दिखाती हैं जिनके फ्री एवं पेट दोनों भजन आते हैं उदाहरण के लिए investing.com tradingview.com chartink.com screener.com इत्यादि

आप भी nifty 50 स्टॉक में निवेश करना चाहते हैं

आने वाले कुछ समय में हर व्यक्ति शेयर बाजार में निवेश करेगा इसकी जागरूकता भी बढ़ती हुई नजर आ रही है तब ऐसे में यदि आप भी निफ़्टी 50 स्टॉक में या शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं तो यह बिल्कुल सही समय है अभी निशुल्क डिमैट अकाउंट खोल कर ₹100 से शुरू कर सकते हैं

यह भी पढ़े -: upstox क्या है

Related Posts

Network Marketing Kya Hai नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें

Network marketing जो की एक बिजनेस मॉडल है इससे कम्पनी का तो प्रॉफिट होता ही है आप भी नेटवर्क मार्केटिंग को ज्वाइन करके इसमें कैरियर बना सकते है। हैलो दोस्तो मेरा नाम है अखिलेश कुमार और आज हम बात करेंगे कि network marketing

5 hour rule क्या है दुनिया के सफल आदमी करते है इसको फॉलो

दोस्तो आज हम बत करेंगे 5 hour rule क्या है जिसे बिल गेट्स शरुखन एलोन मुश्क हर सक्सेस फुल व्यक्ति स्ट्रिक्टली फॉलो करता है कई बार एलोन मुश्बाक जैक माँ शाहरुख़ खान इवन बिल गेट्रेस द्वारा इस बारे में उन्होंने अपने इंटरव्यूज में

tata penny stocks list. क्या आपको टाटा ग्रुप पैनी स्टॉक्स खरीदना चाहिए?

देश का सबसे विश्वसनीय और जाना माना टाटा ग्रुप में कई कंपनिया है जिनके स्टॉक्स LOW PRICE पर ट्रेड करते है इतना तो आप सभी जानते ही होंगे की येसे स्टॉक्स को पैनी स्टॉक्स कहा जाता है। आज हम इन्ही tata penny stocks list के बारे

close button