क्यों शेयर बाजार ट्रेडिंग जुआ नही है

स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग और जुएबाजी को में लोग अक्सर फर्क न करते हुए बोल देते है की शेयर बाजार जुआ है क्योंकि दोनों में ही जोखिम और वित्तीय लाभ या हानि होती हैं। जबकि दोनों को मौद्रिक रूप से अलग करना महत्वपूर्ण है क्योंकि ये अपने स्वभाव और उद्देश्य में मौद्रिक रूप से भिन्न हैं।

पहली बात, स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग निवेश और स्किल पर आधारित है। इसमें सार्वजनिक रूप से व्यापारिक कंपनियों के शेयर खरीदना शामिल है, जिसमें शेयर की मूल्य या डिविडेंड के माध्यम से लाभ करने की आशा होती है।

Open Demat Account

शेयर बाजार vs गैंबलिंग

निवेशक कंपनियों की वित्तीय प्रदर्शन, बाजार की प्रवृत्तियों और अन्य संबंधित कारकों का सावधानीपूर्वक विश्लेषण करते हैं ताकि उचित निर्णय लिया जा सके। सफल स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग ज्ञान, कौशल, और बाजार की गहरी समझ की आवश्यकता होती है।

दूसरी ओर, जुएबाजी और सट्टा योजना और भाग्य पर निर्भर करती है। इसमें अनिश्चित परिणामों पर सट्टा लगाना शामिल है जिसमें जीतने या लाभ कमाने की कोई गारंटी नहीं होती।

How to Invest in Stock market in HIndi

Best stock Market Book In Hindi

जुआ का खेल स्लॉट मशीन्स, कार्ड या तास की अनिश्चित घटनाओं द्वारा परिणामित होते हैं। जिसका कोई फिक्स pattern नही होता संभावना पर आधारित होता है स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग की तरह, जुएबाजी में वित्तीय डेटा का विश्लेषण या सूचित निर्णय लेने की आवश्यकता नहीं है।

इसके अतिरिक्त, स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग एक नियमित और स्पष्ट रूप से नियामक ढाँचे के भीतर होती है। इसे सेबी सिक्योरिटीज एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया जैसे वित्तीय प्राधिकृतियों के नियमों और विधियों के अनुसार चलाया जाता है। ये विधियाँ पारदर्शिता, न्याय, और ईमानदारी सुनिश्चित करने के लक्ष्य से होती हैं। स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग व्यक्तियों को अर्थव्यवस्था में योगदान, व्यापार की समर्थन, और धन निर्माण में भागीदारी करने का अवसर प्रदान करती है।

उसके विपरीत, जुएबाजी को अक्सर व्यस्तिता की स्वभाव से और संबंधित व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए कड़ी विधियाँ होती हैं। कई क्षेत्रों में जुएबाजी के गतिविधियों पर सख्त नियम होते हैं ताकि संवेदनशील व्यक्तियों की सुरक्षा हो सके और सामाजिक हानियों को रोका जा सके।

जुए से पैसा नही बनता

जुआ खेलने का मुख्य उद्देश्य मनोरंजन है, इससे पैसा नही बनाया जा सकता है यह सामान्यत: एक अल्पकालिक प्रयास होती है। जबकि दुसरी तरफ सम्पति निर्माण या वास्तविक पैसा बनाने के लिए स्टॉक मार्किट एक दीर्घकालिक रणनीति मानी जाती है,

स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग में शामिल निवेशकों का सामान्यत: एक दीर्घकालिक परिप्रेक्ष्य रहता है, जिनका लक्ष्य समय के साथ धन बनाना है। उन्हें यह ज्ञात होता है कि उनके निवेश किये गए शेयर का मूल्य अल्पकालिक में उतार-चढ़ाव कर सकता है, लेकिन उन्हें विश्वास है कि बाजार के कुल विकास की संभावना है।

उसके विपरीत, जुआ को सामान्यत: त्वरित जीतों या तुरंत संतुष्टि की इच्छा के साथ जाना जाता है। आखिरकार, स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग अर्थव्यवस्था को लाभ पहुँचाकर कंपनियों के विकास और विस्तार के लिए पूंजी प्रदान करके समृद्धि में योगदान करती है। इससे उद्यमिता को प्रोत्साहित किया जाता है और नौकरी सृष्टि में योगदान होता है। उसके विपरीत, जुआ एक आर्थिक असक्रिय गतिविधि है जो किसी भी वास्तविक मूल्य उत्पन्न नहीं करती।

स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग और जुआ में कुछ समानताएं हो सकती हैं, लेकिन वे मौद्रिक रूप से अलग हैं। स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग निवेश, विश्लेषण, और दीर्घकालिक धन निर्माण पर आधारित है.

Akhilesh
Follow me

Leave a Comment